Agneepath Scheme: केंद्र सरकार की अग्निपथ योजना का बिहार में जबरदस्त विरोध, जगह-जगह प्रदर्शन और आगजनी

0
9


ख़बर सुनें

सेना में भर्ती के लिए केंद्र सरकार की अग्निपथ योजना का बिहार में जबरदस्त विरोध शुरू हो गया है। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह द्वारा अग्निपथ योजना की घोषणा करने के अगले ही दिन बुधवार को जगह-जगह प्रदर्शन शुरू हो गया। प्रदर्शनकारियों ने बक्सर में रेलवे ट्रैक जाम किया, मुजफ्फरपुर के माड़ीपुर में आगजनी की और सड़क जाम कर दी। इसके अलावा आरा में भी जमकर बवाल मचाया। पुलिस और जीआरपी ने प्रदर्शनकारियों को समझाने का भी प्रयास किया लेकिन प्रदर्शनकारी योजना को वापस लेने की मांग पर अड़े हुए हैं।

केंद्र सरकार ने 14 जून को सेना की तीनों शाखाओं- थलसेना, नौसेना और वायुसेना में युवाओं की बड़ी संख्या में भर्ती के लिए अग्निपथ भर्ती योजना शुरू करने का एलान किया है। इस स्कीम के तहत नौजवानों को 4 साल के लिए सेना में सेवा देनी होगी।  

सेना भर्ती ऑफिस के सामने प्रदर्शन
मुजफ्फरपुर में बुधवार को सैकड़ों लोग लाठी-डंडा लेकर सड़क पर उतर गए और हंगामा और प्रदर्शन करने लगे। सबसे पहले प्रदर्शनकारी एआरओ (आर्मी रिक्रूटमेंट ऑफिस) पर पहुंचे और विरोध जताया। इसके बाद प्रदर्शनकारियों ने माड़ीपुर में आगजनी कर रोड जाम कर दिया। साथ ही सड़क के आसपास लगे बोर्ड और होर्डिंग में तोड़फोड़ का भी प्रयास किया। प्रदर्शनकारियों को समझाने के लिए सदर और काजी मोहम्मदपुर पुलिस मौके पर पहुंची, हालांकि वे नहीं मानें। प्रदर्शनकारियों का कहना था कि जब तक सेना का कोई अधिकारी उन लोगों की समस्या नहीं सुनेंगे वे सड़क से नहीं हटेंगे।

बक्सर में रेलवे ट्रैक जाम किया 
बक्सर में प्रदर्शनकारियों ने दिल्ली कोलकाता रेलवे ट्रैक पर बक्सर स्टेशन के मालगोदाम के पास जाम कर दिया। मौके पर रेल सुरक्षा बल, रेल थाना, नगर थाना समेत बक्सर समेत रेल प्रबंधक पहुंचे। प्रदर्शनकारियों को समझाने के बाद ट्रैक से जाम हटा और परिचालन शुरू हो गया। प्रदर्शनकारियों का कहना था कि नेता हो या विधायक, सभी को पांच साल का समय मिलता है, हमारा चार साल में क्या होगा। हमारे पास पेंशन की भी सुविधा नहीं है। चार साल बाद हम रोड पर आ जाएंगे। उनकी मांग थी कि सेना में नियुक्ति की यह योजना रद्द की जाए।

वहीं, प्रदर्शनकारियों ने बेगूसराय में हर हर महादेव चौक पर एनच-31 को पूरी तरीके से जाम कर दिया है। प्रदर्शनकारियों की मांग थी कि अग्निपथ योजना के तहत भर्ती प्रक्रिया रद्द हो और पुरानी भर्ती प्रक्रिया वापस हो। उम्र में दो वर्ष की छूट दी जाए। सीईई एग्जाम प्रक्रिया पर जल्द से जल्द करवाई जाए और एयर फोर्स एयरमैन का रिजल्ट जल्द से जल्द जारी किया जाए।

विस्तार

सेना में भर्ती के लिए केंद्र सरकार की अग्निपथ योजना का बिहार में जबरदस्त विरोध शुरू हो गया है। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह द्वारा अग्निपथ योजना की घोषणा करने के अगले ही दिन बुधवार को जगह-जगह प्रदर्शन शुरू हो गया। प्रदर्शनकारियों ने बक्सर में रेलवे ट्रैक जाम किया, मुजफ्फरपुर के माड़ीपुर में आगजनी की और सड़क जाम कर दी। इसके अलावा आरा में भी जमकर बवाल मचाया। पुलिस और जीआरपी ने प्रदर्शनकारियों को समझाने का भी प्रयास किया लेकिन प्रदर्शनकारी योजना को वापस लेने की मांग पर अड़े हुए हैं।

केंद्र सरकार ने 14 जून को सेना की तीनों शाखाओं- थलसेना, नौसेना और वायुसेना में युवाओं की बड़ी संख्या में भर्ती के लिए अग्निपथ भर्ती योजना शुरू करने का एलान किया है। इस स्कीम के तहत नौजवानों को 4 साल के लिए सेना में सेवा देनी होगी।  

सेना भर्ती ऑफिस के सामने प्रदर्शन

मुजफ्फरपुर में बुधवार को सैकड़ों लोग लाठी-डंडा लेकर सड़क पर उतर गए और हंगामा और प्रदर्शन करने लगे। सबसे पहले प्रदर्शनकारी एआरओ (आर्मी रिक्रूटमेंट ऑफिस) पर पहुंचे और विरोध जताया। इसके बाद प्रदर्शनकारियों ने माड़ीपुर में आगजनी कर रोड जाम कर दिया। साथ ही सड़क के आसपास लगे बोर्ड और होर्डिंग में तोड़फोड़ का भी प्रयास किया। प्रदर्शनकारियों को समझाने के लिए सदर और काजी मोहम्मदपुर पुलिस मौके पर पहुंची, हालांकि वे नहीं मानें। प्रदर्शनकारियों का कहना था कि जब तक सेना का कोई अधिकारी उन लोगों की समस्या नहीं सुनेंगे वे सड़क से नहीं हटेंगे।

बक्सर में रेलवे ट्रैक जाम किया 

बक्सर में प्रदर्शनकारियों ने दिल्ली कोलकाता रेलवे ट्रैक पर बक्सर स्टेशन के मालगोदाम के पास जाम कर दिया। मौके पर रेल सुरक्षा बल, रेल थाना, नगर थाना समेत बक्सर समेत रेल प्रबंधक पहुंचे। प्रदर्शनकारियों को समझाने के बाद ट्रैक से जाम हटा और परिचालन शुरू हो गया। प्रदर्शनकारियों का कहना था कि नेता हो या विधायक, सभी को पांच साल का समय मिलता है, हमारा चार साल में क्या होगा। हमारे पास पेंशन की भी सुविधा नहीं है। चार साल बाद हम रोड पर आ जाएंगे। उनकी मांग थी कि सेना में नियुक्ति की यह योजना रद्द की जाए।

वहीं, प्रदर्शनकारियों ने बेगूसराय में हर हर महादेव चौक पर एनच-31 को पूरी तरीके से जाम कर दिया है। प्रदर्शनकारियों की मांग थी कि अग्निपथ योजना के तहत भर्ती प्रक्रिया रद्द हो और पुरानी भर्ती प्रक्रिया वापस हो। उम्र में दो वर्ष की छूट दी जाए। सीईई एग्जाम प्रक्रिया पर जल्द से जल्द करवाई जाए और एयर फोर्स एयरमैन का रिजल्ट जल्द से जल्द जारी किया जाए।

S

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here