Bihar: ‘अब लौट के आइए बिहार’ नीतीश सरकार का नया नारा, आठ जून को नई टेक्सटाइल और लेदर पॉलिसी होगी लॉन्च

0
23


न्यूज डेस्क, अमर उजाला, पटना
Published by: संजीव कुमार झा
Updated Tue, 07 Jun 2022 08:37 AM IST

ख़बर सुनें

बिहार में पलायन को रोकने के लिए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार हरसंभव कोशिश में लगे हुए हैं। दरअसल, बिहार में उद्योग को बढ़ावा देने के लिए सीएम नीतीश 8 जून को नई टेक्सटाइल और लेदर पॉलिसी लॉन्च करने जा रहे हैं। यह जानकारी राज्य के उद्योग मंत्री सैयद शाहनवाज हुसैन ने दी। उन्होंने कहा कि बिहार में टेक्सटाइल और लेदर उद्योगों की स्थापना के नए द्वार खुलने जा रहे हैं। उन्होंने दावा किया कि टेक्सटाइल और लेदर उद्योग के लिए बिहार सबसे उपयुक्त जगह है। 

‘अब लौट के आइए बिहार’ नीतीश सरकार का नया नारा 
शाहनवाज हुसैन ने कार्यक्रम के दौरान एक नारा भी दिया। इस दौरान उन्होंने पलायन पर प्रहार करते हुए कहा कि अब बिहार तेजी से विकास कर रहा है। इसलिए ‘अब लौट के आइए बिहार’ में। बिहार जल्द ही रोजगार का हब बनेगा। उन्होंने कहा कि यहां के लोग उद्योग लगने को लेकर बहुत उत्साहित हैं। लोगों को अब पलायन नहीं करना पड़ेगा।

बिहार अब बांग्लादेश और वियतनाम को टेक्सटाइल प्रक्षेत्र में कड़ी टक्कर देगा 
शाहनवाज हुसैन ने कहा कि बिहार अब बांग्लादेश और वियतनाम को भी टेक्सटाइल प्रक्षेत्र में कड़ी टक्कर देगा। बिहार की सबसे बड़ी ताकत इसकी प्रशिक्षित श्रमशक्ति है। तिरुपुर, सूरत, अहमदाबाद, मुंबई, चंडीगढ़ समेत देश के तमाम टेक्सटाइल कंपनियों में ज्यादातर कुशल या अर्धकुशल कामगार बिहार के ही हैं।

विस्तार

बिहार में पलायन को रोकने के लिए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार हरसंभव कोशिश में लगे हुए हैं। दरअसल, बिहार में उद्योग को बढ़ावा देने के लिए सीएम नीतीश 8 जून को नई टेक्सटाइल और लेदर पॉलिसी लॉन्च करने जा रहे हैं। यह जानकारी राज्य के उद्योग मंत्री सैयद शाहनवाज हुसैन ने दी। उन्होंने कहा कि बिहार में टेक्सटाइल और लेदर उद्योगों की स्थापना के नए द्वार खुलने जा रहे हैं। उन्होंने दावा किया कि टेक्सटाइल और लेदर उद्योग के लिए बिहार सबसे उपयुक्त जगह है। 

‘अब लौट के आइए बिहार’ नीतीश सरकार का नया नारा 

शाहनवाज हुसैन ने कार्यक्रम के दौरान एक नारा भी दिया। इस दौरान उन्होंने पलायन पर प्रहार करते हुए कहा कि अब बिहार तेजी से विकास कर रहा है। इसलिए ‘अब लौट के आइए बिहार’ में। बिहार जल्द ही रोजगार का हब बनेगा। उन्होंने कहा कि यहां के लोग उद्योग लगने को लेकर बहुत उत्साहित हैं। लोगों को अब पलायन नहीं करना पड़ेगा।

बिहार अब बांग्लादेश और वियतनाम को टेक्सटाइल प्रक्षेत्र में कड़ी टक्कर देगा 

शाहनवाज हुसैन ने कहा कि बिहार अब बांग्लादेश और वियतनाम को भी टेक्सटाइल प्रक्षेत्र में कड़ी टक्कर देगा। बिहार की सबसे बड़ी ताकत इसकी प्रशिक्षित श्रमशक्ति है। तिरुपुर, सूरत, अहमदाबाद, मुंबई, चंडीगढ़ समेत देश के तमाम टेक्सटाइल कंपनियों में ज्यादातर कुशल या अर्धकुशल कामगार बिहार के ही हैं।

S

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here