Bihar: अमित शाह की बैठक में रोके गए गिरिराज, हुए नाराज तो बड़े-बड़े नेताओं को करनी पड़ी मान-मनौव्वल

0
21



गिरिराज सिंह
– फोटो : Amar Ujala

ख़बर सुनें

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह इन दिनों बिहार में हैं। शुक्रवार को उन्होंने पूर्णिया में एक बड़ी रैली को संबोधित कर अपने बिहार दौरे की शुरुआत की थी। इसके बाद उन्होंने किशनगंज में भाजपा नेताओं के साथ बैठक की। इस बैठक के दौरान एक ऐसा वाकया घटा, जिसकी चर्चा अब चारों ओर है। 

दरअसल, अमित शाह की इस बैठक के लिए सुरक्षा व्यवस्था बेहद कड़ी की गई थी। अंदर सिर्फ उन्हीं लोगों को जाने दिया जा रहा था, जिन्हें पास उपलब्ध कराया गया था। इस बैठक में शामिल होने के लिए केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह भी पहुंचे, लेकिन बैठक का पास न होने के कारण सुरक्षा कर्मियों ने उन्हें गेट पर ही रोक दिया। इसके बाद वे भड़क गए और आग-बबूला होकर वापस सर्किट हाउस चले गए।

नेताओं ने की मान-मनौव्वल
सुरक्षा कर्मियों द्वारा रोके जाने से केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह इतना नाराज हो गए कि उन्होंने बैठक में आने से ही मना कर दिया। इसके बाद भाजपा के बड़े नेताओं में प्रदेश अध्यक्ष संजय जायसवाल, पूर्व डिप्टी सीएम ताराकिशोर प्रसाद समेत अन्य नेताओं ने उनसे मान-मनौव्वल की। तब जाकर गिरिराज सिंह माने और बैठक में शामिल हुए। 

कई बड़े नेता गए पैदल
अमित शाह की बैठक में सुरक्षा व्यवस्था की सख्ती का यह आलम था कि कई बड़े नेताओं को इसमें शामिल होने के लिए पैदल चलना पड़ा। पूर्व मंत्री राधामोहन सिंह की गाड़ी को भी सुरक्षाकर्मियों ने गेट पर ही रोक दिया। इसके बाद उन्हें पैदल अंदर तक जाना पड़ा। यहां तक कि कई नेताओं को एक ही गाड़ी के साथ प्रवेश दिया गया, उनके सुरक्षा कर्मियों को बाहर ही रोक दिया गया।  

नीतीश और लालू पर बोला था हमला 
अपने बिहार दौरे की शुरुआत अमित शाह ने पूर्णिया में रैली से की। इस दौरान उन्होंने लालू यादव व नीतीश कुमार पर जोरदार हमला बोला। उन्होंने लालू यादव को नसीहत दी कि कहीं नीतीश कुमार फिर से पाला न बदल लें। इस दौरान उन्होंने कहा कि बिहार में जंगलराज वापस लौट आया है, आने वाले चुनाव में बिहार में भाजपा की सरकार बनेगी। 

विस्तार

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह इन दिनों बिहार में हैं। शुक्रवार को उन्होंने पूर्णिया में एक बड़ी रैली को संबोधित कर अपने बिहार दौरे की शुरुआत की थी। इसके बाद उन्होंने किशनगंज में भाजपा नेताओं के साथ बैठक की। इस बैठक के दौरान एक ऐसा वाकया घटा, जिसकी चर्चा अब चारों ओर है। 

दरअसल, अमित शाह की इस बैठक के लिए सुरक्षा व्यवस्था बेहद कड़ी की गई थी। अंदर सिर्फ उन्हीं लोगों को जाने दिया जा रहा था, जिन्हें पास उपलब्ध कराया गया था। इस बैठक में शामिल होने के लिए केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह भी पहुंचे, लेकिन बैठक का पास न होने के कारण सुरक्षा कर्मियों ने उन्हें गेट पर ही रोक दिया। इसके बाद वे भड़क गए और आग-बबूला होकर वापस सर्किट हाउस चले गए।

नेताओं ने की मान-मनौव्वल

सुरक्षा कर्मियों द्वारा रोके जाने से केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह इतना नाराज हो गए कि उन्होंने बैठक में आने से ही मना कर दिया। इसके बाद भाजपा के बड़े नेताओं में प्रदेश अध्यक्ष संजय जायसवाल, पूर्व डिप्टी सीएम ताराकिशोर प्रसाद समेत अन्य नेताओं ने उनसे मान-मनौव्वल की। तब जाकर गिरिराज सिंह माने और बैठक में शामिल हुए। 


कई बड़े नेता गए पैदल

अमित शाह की बैठक में सुरक्षा व्यवस्था की सख्ती का यह आलम था कि कई बड़े नेताओं को इसमें शामिल होने के लिए पैदल चलना पड़ा। पूर्व मंत्री राधामोहन सिंह की गाड़ी को भी सुरक्षाकर्मियों ने गेट पर ही रोक दिया। इसके बाद उन्हें पैदल अंदर तक जाना पड़ा। यहां तक कि कई नेताओं को एक ही गाड़ी के साथ प्रवेश दिया गया, उनके सुरक्षा कर्मियों को बाहर ही रोक दिया गया।  


नीतीश और लालू पर बोला था हमला 

अपने बिहार दौरे की शुरुआत अमित शाह ने पूर्णिया में रैली से की। इस दौरान उन्होंने लालू यादव व नीतीश कुमार पर जोरदार हमला बोला। उन्होंने लालू यादव को नसीहत दी कि कहीं नीतीश कुमार फिर से पाला न बदल लें। इस दौरान उन्होंने कहा कि बिहार में जंगलराज वापस लौट आया है, आने वाले चुनाव में बिहार में भाजपा की सरकार बनेगी। 

S

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here