Bihar: ललन सिंह बोले- नीतीश कुमार पीएम उम्मीदवार नहीं, तेजस्वी यादव ने शाह पर कसा तंज

0
22



राजीव रंजन
– फोटो : ANI

ख़बर सुनें

बिहार के मुख्यमंत्री की पीएम पद की दावेदारी पर जदयू प्रमुख राजीव रंजन (ललन) सिंह ने बड़ा बयान दिया। उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार पीएम उम्मीदवार नहीं हैं। वे केवल विपक्षी दलों को एकजुट करने में सूत्रधार बनना चाहते हैं। विपक्ष की एकता से भारत भाजपा से मुक्त हो सकता है। उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार सीबीआई या ईडी से नहीं डरते, लेकिन जिस तरह से आप (बीजेपी) सीबीआई का दुरुपयोग कर रहे हैं, वह पूरे देश के लिए चिंता का विषय है। आप स्थापित और भरोसेमंद संस्थानों की विश्वसनीयता को खत्म कर रहे हैं और राजनीतिक उद्देश्यों के लिए उनका इस्तेमाल कर रहे हैं।

इस बीच बिहार के उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने कहा कि मैंने कहा था कि जब वे(अमित शाह) आएंगे तो बेकार की बात करेंगे। क्या हुआ 15 लाख देने का? कल मैंने प्रधामंत्री मोदी का 2014 का वीडियो ट्वीट किया था जिसमें बिहार पर विशेष ध्यान देने की बात थी। उन्होंने रोजगार पर बात नहीं कि महंगाई पर बात नहीं की। तेजस्वी यादव ने शाह के भाषण को कॉमेडी शो करार दिया। उन्होंने आरोप लगाया कि शाह ने माहौल खराब करने के इरादे से बिहार का दौरा किया है।

Amit Shah Bihar Visit: कितना अहम है अमित शाह का सीमांचल दौरा, बिहार के लिए क्या हैं इस दौरे के मायने?

इससे पहले बिहार के पूर्णिया पहुंचे गृह मंत्री अमित शाह ने राजद और जदयू पर जमकर हमला बोला। उन्होंने कहा कि आज मैं जब बिहार में आया हूं तब लालू और नीतीश की जोड़ी को पेट में दर्द हो रहा है। वो कह रहे हैं कि बिहार में झगड़ा लगाने आए हैं, कुछ करके जाएंगे। अमित शाह ने तंज कसते हुए कहा कि लालू जी झगड़ा लगाने के लिए मेरी जरूरत नहीं है आप झगड़ा लगाने के लिए पर्याप्त हो, आपने पूरा जीवन यही काम किया है।

पीएम बनने के लिए नीतीश बाबू ने दिया धोखा: शाह
अमित शाह ने कहा, प्रधानमंत्री बनने के लिए नीतीश बाबू ने भाजपा की पीठ में छुरा भोंका है। वह आज आरजेडी और कांग्रेस की गोद में बैठे हैं। आज भाजपा को धोखा देकर लालू की गोद में बैठकर नीतीश जी ने स्वार्थ और सत्ता की राजनीति का जो परिचय दिया है उसके खिलाफ बिगुल फूंकने की शुरुआत भी यही बिहार की भूमि से शुरुआत होगी। उन्होंने कहा, हम स्वार्थ और सत्ता की राजनीति की जगह सेवा और विकास की राजनीति के पक्षधर हैं। नीतीश जी, लालू जी की गोद में बैठ गए हैं। अब यहां डर का माहौल बन गया है। लेकिन मैं कहना चाहता हूं कि किसी को डरने की जरूरत नहीं है। आपके साथ नरेंद्र मोदी की सरकार है।

विस्तार

बिहार के मुख्यमंत्री की पीएम पद की दावेदारी पर जदयू प्रमुख राजीव रंजन (ललन) सिंह ने बड़ा बयान दिया। उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार पीएम उम्मीदवार नहीं हैं। वे केवल विपक्षी दलों को एकजुट करने में सूत्रधार बनना चाहते हैं। विपक्ष की एकता से भारत भाजपा से मुक्त हो सकता है। उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार सीबीआई या ईडी से नहीं डरते, लेकिन जिस तरह से आप (बीजेपी) सीबीआई का दुरुपयोग कर रहे हैं, वह पूरे देश के लिए चिंता का विषय है। आप स्थापित और भरोसेमंद संस्थानों की विश्वसनीयता को खत्म कर रहे हैं और राजनीतिक उद्देश्यों के लिए उनका इस्तेमाल कर रहे हैं।

इस बीच बिहार के उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने कहा कि मैंने कहा था कि जब वे(अमित शाह) आएंगे तो बेकार की बात करेंगे। क्या हुआ 15 लाख देने का? कल मैंने प्रधामंत्री मोदी का 2014 का वीडियो ट्वीट किया था जिसमें बिहार पर विशेष ध्यान देने की बात थी। उन्होंने रोजगार पर बात नहीं कि महंगाई पर बात नहीं की। तेजस्वी यादव ने शाह के भाषण को कॉमेडी शो करार दिया। उन्होंने आरोप लगाया कि शाह ने माहौल खराब करने के इरादे से बिहार का दौरा किया है।

Amit Shah Bihar Visit: कितना अहम है अमित शाह का सीमांचल दौरा, बिहार के लिए क्या हैं इस दौरे के मायने?

इससे पहले बिहार के पूर्णिया पहुंचे गृह मंत्री अमित शाह ने राजद और जदयू पर जमकर हमला बोला। उन्होंने कहा कि आज मैं जब बिहार में आया हूं तब लालू और नीतीश की जोड़ी को पेट में दर्द हो रहा है। वो कह रहे हैं कि बिहार में झगड़ा लगाने आए हैं, कुछ करके जाएंगे। अमित शाह ने तंज कसते हुए कहा कि लालू जी झगड़ा लगाने के लिए मेरी जरूरत नहीं है आप झगड़ा लगाने के लिए पर्याप्त हो, आपने पूरा जीवन यही काम किया है।

पीएम बनने के लिए नीतीश बाबू ने दिया धोखा: शाह

अमित शाह ने कहा, प्रधानमंत्री बनने के लिए नीतीश बाबू ने भाजपा की पीठ में छुरा भोंका है। वह आज आरजेडी और कांग्रेस की गोद में बैठे हैं। आज भाजपा को धोखा देकर लालू की गोद में बैठकर नीतीश जी ने स्वार्थ और सत्ता की राजनीति का जो परिचय दिया है उसके खिलाफ बिगुल फूंकने की शुरुआत भी यही बिहार की भूमि से शुरुआत होगी। उन्होंने कहा, हम स्वार्थ और सत्ता की राजनीति की जगह सेवा और विकास की राजनीति के पक्षधर हैं। नीतीश जी, लालू जी की गोद में बैठ गए हैं। अब यहां डर का माहौल बन गया है। लेकिन मैं कहना चाहता हूं कि किसी को डरने की जरूरत नहीं है। आपके साथ नरेंद्र मोदी की सरकार है।

S

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here