SpiceJet Q400 Aircraft: पटना एयरपोर्ट पर स्पाइस जेट फ्लाइट में आई तकनीकी खराबी, टेकऑफ से पहले विमान रोकना पड़ा

0
29


न्यूज डेस्क, अमर उजाला, पटना
Published by: अभिषेक दीक्षित
Updated Sat, 25 Jun 2022 07:34 PM IST

ख़बर सुनें

पटना से गुवाहाटी जाने वाली स्पाइस जेट की एसजी-3724 फ्लाइट को शनिवार को रद्द करना पड़ा। बताया जा रहा है कि विमान में उड़ान से पहले ही कुछ खराबी आ गई। इस कारण फ्लाइट को रनवे पर ही रोक दिया गया। हालांकि, सबकुछ नियंत्रण में रहा और कोई नुकसान नहीं हुआ। इससे पहले 19 जून को पटना से दिल्ली जा रही स्पाइस जेट की फ्लाइट एसजी-723 के इंजन में आग लग गई थी, इसमें 185 यात्री सवार थे। हालांकि, करीब 22 मिनट बाद विमान की सुरक्षित लैंडिंग कराया गया था।

डीजीसीए ने उठाया अहम कदम
इस बीच खबर आ रही है कि डीजीसीए ने गंभीर सुरक्षा चिंताओं को देखते हुए मध्य प्रदेश और महाराष्ट्र में स्थित दो फ्लाइंग ट्रेनिंग स्कूलों में फ्लाइंग ऑपरेशन तीन सप्ताह के लिए रोक दिया है। एक मामले में इसे तब तक के लिए रोका गया है जब तक रनवे उड़ान संचालन के लिए उपयुक्त नहीं है। डीजीसीए के मुताबिक, एक निरीक्षण के दौरान यह देखा गया कि इसमें बजरी की समस्या था और एक असमान सतह पर पाई गई, जो उड़ान के लिए असुरक्षित थी। एक अन्य मामले में यह देखा गया कि एक फ्लाइंग स्कूल के तीन विमानों में खराब ईंधन गेज संकेतक थे और उनका संचालन किया जा रहा था।

विस्तार

पटना से गुवाहाटी जाने वाली स्पाइस जेट की एसजी-3724 फ्लाइट को शनिवार को रद्द करना पड़ा। बताया जा रहा है कि विमान में उड़ान से पहले ही कुछ खराबी आ गई। इस कारण फ्लाइट को रनवे पर ही रोक दिया गया। हालांकि, सबकुछ नियंत्रण में रहा और कोई नुकसान नहीं हुआ। इससे पहले 19 जून को पटना से दिल्ली जा रही स्पाइस जेट की फ्लाइट एसजी-723 के इंजन में आग लग गई थी, इसमें 185 यात्री सवार थे। हालांकि, करीब 22 मिनट बाद विमान की सुरक्षित लैंडिंग कराया गया था।

डीजीसीए ने उठाया अहम कदम

इस बीच खबर आ रही है कि डीजीसीए ने गंभीर सुरक्षा चिंताओं को देखते हुए मध्य प्रदेश और महाराष्ट्र में स्थित दो फ्लाइंग ट्रेनिंग स्कूलों में फ्लाइंग ऑपरेशन तीन सप्ताह के लिए रोक दिया है। एक मामले में इसे तब तक के लिए रोका गया है जब तक रनवे उड़ान संचालन के लिए उपयुक्त नहीं है। डीजीसीए के मुताबिक, एक निरीक्षण के दौरान यह देखा गया कि इसमें बजरी की समस्या था और एक असमान सतह पर पाई गई, जो उड़ान के लिए असुरक्षित थी। एक अन्य मामले में यह देखा गया कि एक फ्लाइंग स्कूल के तीन विमानों में खराब ईंधन गेज संकेतक थे और उनका संचालन किया जा रहा था।

S

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here