Bihar: बेगूसराय में उत्पाद विभाग की कार्रवाई, 32 लोग हिरासत में, शराब पीने और बेचने का आरोप

0
17



पुलिस की गाड़ी क्षतिग्रस्त
– फोटो : अमर उजाला

ख़बर सुनें

बेगूसराय जिले में बुधवार रात उत्पाद विभाग ने एक बार फिर बड़ी कार्रवाई करते हुए विभिन्न थाना क्षेत्रों में छापेमारी कर 32 लोगों को हिरासत में लिया है। इन पर शराब पीने और बेचने का आरोप है। लेकिन इस कार्रवाई के दौरान उत्पाद विभाग को काफी परेशानियों का भी सामना करना पड़ा।

जानकारी के अनुसार, मुफस्सिल थाना क्षेत्र के राजा मोहल्ला वार्ड नंबर-8 में जब उत्पाद विभाग की टीम छापेमारी करने पहुंची तो वहां पर शराब पीने वालों और बेचने वालों ने पुलिस टीम पर ही हमला कर दिया। उस जगह से उत्पाद पुलिस ने दो व्यक्ति को गिरफ्तार किया, इसी से नाराज लोगों ने उत्पाद पुलिस पर ईटा-पत्थर से हमला कर दिया, जिसमें दो गाड़ी पूरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गई।

गनीमत रही कि किसी पुलिसकर्मी को चोट नहीं आई, लेकिन उत्पाद विभाग की गाड़ियां क्षतिग्रस्त हुई हैं। गाड़ियों के शीशे टूट गए हैं, लेकिन सवाल उठना लाजमी है कि शराब बंदी वाले बिहार में जिस तरह से शराब कारोबारियों के हौसले बुलंद हैं और पुलिस टीम पर हमला करने से बाज नहीं आ रहे हैं। वह कहीं न कहीं शराब बंदी कानून पर भी सवाल खड़े कर रही है।

विस्तार

बेगूसराय जिले में बुधवार रात उत्पाद विभाग ने एक बार फिर बड़ी कार्रवाई करते हुए विभिन्न थाना क्षेत्रों में छापेमारी कर 32 लोगों को हिरासत में लिया है। इन पर शराब पीने और बेचने का आरोप है। लेकिन इस कार्रवाई के दौरान उत्पाद विभाग को काफी परेशानियों का भी सामना करना पड़ा।

जानकारी के अनुसार, मुफस्सिल थाना क्षेत्र के राजा मोहल्ला वार्ड नंबर-8 में जब उत्पाद विभाग की टीम छापेमारी करने पहुंची तो वहां पर शराब पीने वालों और बेचने वालों ने पुलिस टीम पर ही हमला कर दिया। उस जगह से उत्पाद पुलिस ने दो व्यक्ति को गिरफ्तार किया, इसी से नाराज लोगों ने उत्पाद पुलिस पर ईटा-पत्थर से हमला कर दिया, जिसमें दो गाड़ी पूरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गई।

गनीमत रही कि किसी पुलिसकर्मी को चोट नहीं आई, लेकिन उत्पाद विभाग की गाड़ियां क्षतिग्रस्त हुई हैं। गाड़ियों के शीशे टूट गए हैं, लेकिन सवाल उठना लाजमी है कि शराब बंदी वाले बिहार में जिस तरह से शराब कारोबारियों के हौसले बुलंद हैं और पुलिस टीम पर हमला करने से बाज नहीं आ रहे हैं। वह कहीं न कहीं शराब बंदी कानून पर भी सवाल खड़े कर रही है।



S

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here