Bihar Politics: तेजस्वी ने रोजगार मुद्दे पर भाजपा को घेरा, लालू यादव की सेहत पर कही यह बात

0
24



लालू यादव और तेजस्वी यादव(फाइल)
– फोटो : Social Media

ख़बर सुनें

बिहार के डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव ने रविवार को पिता लालू यादव की सेहत को लेकर मीडिया से बात की। उन्होंने कहा कि डॉक्टर चाहते थे कि परिवार का कोई व्यक्ति मेरे पिता यानी लालू प्रसाद यादव को किडनी दान करे। मेरी बहन रोहिणी की किडनी का सबसे अच्छा मेल था, इसलिए हम इसके साथ आगे बढ़े। 

दरअसल, पिछले कई सालों से किडनी की बीमारियों से पीड़ित लालू प्रसाद की जिंदगी बचाने के लिए उनकी सिंगापुर वाली बेटी रोहिणी अचार्य ने बड़ा फैसला लिया था। रोहिणी अचार्य ने अपने पिता को एक किडनी दान करने का फैसला किया था, ताकि वे बीमारी से जल्द उबर सकें। लालू 56 से अधिक तरह की बीमारियों से पीड़ित हैं जिसके इलाज के लिए वे कुछ दिन पहले सिंगापुर गए थे।

तेजस्वी ने केंद्र और भाजपा पर भी जमकर निशाना साधा। उन्होंने रोजगार मुद्दे पर भाजपा को असफल बताया। उन्होंने कहा कि भाजपा को गिनती आती है? 3 महीने के अंदर ही लगातार नियुक्ति पत्र बंटना शुरू हो गए हैं। 16 तारीख को हम और 10,000 लोगों को नौकरी देने जा रहे हैं। आठ साल में हर साल दो करोड़ रोजगार देने का वादा था, उसमें से कितना रोजगार भाजपा ने दिया।

विस्तार

बिहार के डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव ने रविवार को पिता लालू यादव की सेहत को लेकर मीडिया से बात की। उन्होंने कहा कि डॉक्टर चाहते थे कि परिवार का कोई व्यक्ति मेरे पिता यानी लालू प्रसाद यादव को किडनी दान करे। मेरी बहन रोहिणी की किडनी का सबसे अच्छा मेल था, इसलिए हम इसके साथ आगे बढ़े। 

दरअसल, पिछले कई सालों से किडनी की बीमारियों से पीड़ित लालू प्रसाद की जिंदगी बचाने के लिए उनकी सिंगापुर वाली बेटी रोहिणी अचार्य ने बड़ा फैसला लिया था। रोहिणी अचार्य ने अपने पिता को एक किडनी दान करने का फैसला किया था, ताकि वे बीमारी से जल्द उबर सकें। लालू 56 से अधिक तरह की बीमारियों से पीड़ित हैं जिसके इलाज के लिए वे कुछ दिन पहले सिंगापुर गए थे।

तेजस्वी ने केंद्र और भाजपा पर भी जमकर निशाना साधा। उन्होंने रोजगार मुद्दे पर भाजपा को असफल बताया। उन्होंने कहा कि भाजपा को गिनती आती है? 3 महीने के अंदर ही लगातार नियुक्ति पत्र बंटना शुरू हो गए हैं। 16 तारीख को हम और 10,000 लोगों को नौकरी देने जा रहे हैं। आठ साल में हर साल दो करोड़ रोजगार देने का वादा था, उसमें से कितना रोजगार भाजपा ने दिया।



S

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here