Katni Robbery case: बिहार की बेऊर जेल में बंद सुबोध सिंह निकला डकैती का मास्टर माइंड, गैंग के दो सदस्य पकड़ाए

0
55


मध्यप्रदेश के कटनी में शनिवार को बरगवां स्थित मणप्पुरम गोल्ड लोन कंपनी की ब्रांच में डकैती का खुलासा पुलिस ने कर दिया है। मास्टर माइंड बिहार की बेउर जेल में बंद सुबोध सिंह तथा बस्तर जेल में बंद दिलीप सिंह निकले हैं। कटनी पुलिस ने इस गैंग के दो सदस्यों को गिरफ्तार किया है। गैंग के सदस्यों ने अभी तक कई वारदातों के जरिए 300 किलो से अधिक सोना व नगदी लूटा है। 

कटनी पुलिस अधीक्षक एसके जैन ने बताया कि शनिवार सुबह लगभग साढे़ दस बजे सशस्त्र डकैतों ने धावा रंगनाथ थानांतर्गत बरगवां स्थित मणप्पुरम गोल्ड लोन की ब्रांच में धावा बोला था। पिस्टल की नोक पर आरोपी बैंक के लॉकर में रखा 16 किलो सोना व साढे़ तीन लाख रुपये नगद लेकर फरार हो गए थे। भागते समय आरोपी एक ब्रांच कर्मी की मोटरसाइकिल भी ले गए थे।

 

जैन ने बताया कि सीसीटीवी फुटेज के माध्यम से जानकारी मिली कि पांच आरोपी मझगवां-कुंडम होते हुए मंडला की तरफ जा रहे हैं। मंडला के निवास में पुलिस ने चैकिंग पाइंट लगाया था। कटनी पुलिस भी उनके पीछे लगी हुई थी। मंडला पुलिस ने वारदात में शामिल शुभम तिवारी उम्र 24 साल निवासी बिहार तथा अंकुर साहू उम्र 25 साल निवासी बक्सर बिहार को चैकिंग के दौरान पकड़ लिया। उनके तीन अन्य साथी मोटरसाइकिल लेकर जंगल की तरफ भाग गए। पुलिस ने आरोपियों के पास से 20 हजार रुपये नगद, तीन मोटरसाइकिल, एक कट्टा बरामद किया है। गैंग के अन्य सदस्य के जंगल में छिपे होने की संभावना है। जिनकी तलाश में पुलिस सर्चिंग कर रही है। पूछताछ के लिए आरोपियों का पुलिस रिमांड पर लिया गया है। हालांकि अभी तक लूटा गया सोना और रुपयों का पता नहीं चल सका है। 

 

एसपी ने बताया कि आरोपियों ने पूछताछ के दौरान बताया कि पटना के बेऊर जेल में बंद सुबोध सिंह गैंग के वे सदस्य हैं। डकैती की योजना सुबोध सिंह तथा बक्सर जेल में बंद दिलीप सिंह ने रची थी। वारदात में गैंग के सदस्य अखिलेश उर्फ विकास निवासी वैशाली, अर्जुन उर्फ पीयूष जायसवाल निवासी पटना, मिथिलेष उर्फ धर्मेन्द्र पाल निवासी बक्सर तथा अमित सिंह उर्फ विक्कू निवासी हाजीपुर शामिल थे। उनकी गैंग ने गत 29 अगस्त को राजस्थान के उदयपुर में स्थित एक गोल्ड लोन ब्रांच में डकैती डाली थी। वे गत 15 दिनों से ग्रामीण क्षेत्र में किराए का मकान लेकर रैकी कर रहे थे।

उनकी गैंग अब तक कर्नाटक, आंध्रप्रदेश, तमिलनाडु, बंगाल, राजस्थान, पंजाब और हरियाणा में करीब तीन क्विंटल से अधिक सोना व नगदी की डकैती कर चुकी है। सोना उत्तर प्रदेश के रास्ते नेपाल भेजा जाता था। यह पहला अवसर है जब गैंग का कोई सदस्य वारदात के बाद पकड़ा गया है।

 

कौन है सुबोध सिंह

बेउर में बंद सुबोध सिंह 2017 में जयपुर मानसरोवर में मुथूट फाइनांस के दफ्तर से 25 किलोग्राम सोना लूट चुका है। उस पर दो दर्जन से अधिक ज्वेलरी दुकान और बैंक लूट के मामले दर्ज हैं। इसके अलावा दो पुलिस कर्मियों सहित कई हत्याओं के मामले भी दर्ज हैं। सुबोध सिंह बिहार का एक कुख्यात अपराधी है।

तीस-तीस हजार रुपये का इनाम घोषित

अतिरिक्त पुलिस महानिदेषक उमेश जोगा ने फरार आरोपियों पर 30-30 हजार रुपये का इनाम घोषित किया है। दो आरोपियों को 24 घंटों के अंदर गिरफ्तार करने पर कटनी पुलिस को पुरस्कृत करने की घोषणा की गई है।

ये भी पढ़ें: मणप्पुरम गोल्ड में दिनदहाड़े डकैती, नकाबपोश बदमाश ले उड़े 16 किलो सोना, साढ़े तीन लाख कैश



S

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here