Nitish Kumar News: फूलपुर के बाद अब मिर्जापुर से भी नीतीश के चुनाव लड़ने की चर्चा, सुशील मोदी ने कसा तंज

0
26


ख़बर सुनें

फूलपुर के बाद अब मिर्जापुर लोकसभा क्षेत्र से बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के चुनाव लड़ने की चर्चा चल पड़ी है। दरअसल, बिहार के भाजपा नेता सुशील कुमार मोदी के एक ट्वीट के बाद यह चर्चा शुरू हुई। पूर्व मुख्यमंत्री सुशील मोदी ने ट्वीट कर कहा है कि नीतीश कुमार भाजपा और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की लोकप्रियता से इतना डरे हुए हैं कि वे आगामी लोकसभा चुनाव में बिहार से लड़ने के बजाय यूपी में फूलपुर और मिर्जापुर से प्रत्याशी बनने की सोच रहे हैं। नीतीश कुमार कहीं से भी लड़ें, उनकी जमानत जब्त होगी।

सुशील मोदी के इस बयान के बाद मिर्जापुर की सियासत में भी सरगर्मी पैदा हो गई है। जदयू अध्यक्ष लल्लन सिंह ने भी कहा है कि पार्टी कार्यकर्ता चाहते हैं कि नीतीश कुमार फूलपुर या मिर्जापुर से चुनाव लडे़ं। मिर्जापुर से भाजपा-अपना दल एस गठबंधन की सांसद अनुप्रिया पटेल हैं।

इनकी मिर्जापुर के साथ ही पूर्वांचल की पटेल बिरादरी में मजबूत पकड़ है। यह इलाका भी पटेल बाहुल्य है।

जानकारों का मानना है कि मिर्जापुर स्थित विंध्याचल धाम में उत्तर प्रदेश के साथ ही बिहार, झारखंड व मध्य प्रदेश के लोगों की गहरी श्रद्धा है। ऐसे में मिर्जापुर से चुनाव लड़कर नीतीश बिहार में अपनी सियासत को और मजबूत कर सकते हैं। 

विस्तार

फूलपुर के बाद अब मिर्जापुर लोकसभा क्षेत्र से बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के चुनाव लड़ने की चर्चा चल पड़ी है। दरअसल, बिहार के भाजपा नेता सुशील कुमार मोदी के एक ट्वीट के बाद यह चर्चा शुरू हुई। पूर्व मुख्यमंत्री सुशील मोदी ने ट्वीट कर कहा है कि नीतीश कुमार भाजपा और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की लोकप्रियता से इतना डरे हुए हैं कि वे आगामी लोकसभा चुनाव में बिहार से लड़ने के बजाय यूपी में फूलपुर और मिर्जापुर से प्रत्याशी बनने की सोच रहे हैं। नीतीश कुमार कहीं से भी लड़ें, उनकी जमानत जब्त होगी।

सुशील मोदी के इस बयान के बाद मिर्जापुर की सियासत में भी सरगर्मी पैदा हो गई है। जदयू अध्यक्ष लल्लन सिंह ने भी कहा है कि पार्टी कार्यकर्ता चाहते हैं कि नीतीश कुमार फूलपुर या मिर्जापुर से चुनाव लडे़ं। मिर्जापुर से भाजपा-अपना दल एस गठबंधन की सांसद अनुप्रिया पटेल हैं।

इनकी मिर्जापुर के साथ ही पूर्वांचल की पटेल बिरादरी में मजबूत पकड़ है। यह इलाका भी पटेल बाहुल्य है।

S

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here