Sitamarhi: सब्जी व्यापारी ने जेब से पैसे निकालते बालक को रंगे हाथ पकड़ा, पिटाई कर किया पुलिस के हवाले

0
15
Sitamarhi: सब्जी व्यापारी ने जेब से पैसे निकालते बालक को रंगे हाथ पकड़ा, पिटाई कर किया पुलिस के हवाले



डुमरा थाना
– फोटो : Amar Ujala Digital

विस्तार

सीतामढ़ी में चोरी के आरोप में एक बालक को लोगों ने पकड़ कर पहले पिटाई की फिर ग्रामीण पुलिस के हवाले कर दिया। घटना जिले के डुमरा थाना क्षेत्र के बाजितपुर सब्जी मंडी की है। यहां चोर गिरोह के एक बालक को रंगे हाथ चोरी करते स्थानीय लोगों ने पकड़ लिया।

हालांकि इस दौरान बालक चोर अपने साथी की पैसा थमा चुका था, जिसके बाद लोगों पकड़कर पहले उसके साथ मारपीट की, फिर खुद से उससे पूछताछ करने लगे। अंत में जब बालक ने अपने सदस्यों के ठिकाने के बारे में नहीं बताया तो लोगों ने उसे ग्रामीण पुलिस के हवाले कर दिया। खास बात तो यह है कि इस सूचना के करीब चार घंटे बाद भी डुमरा थाना की पुलिस घटनास्थल पर नहीं पहुंची। वहीं स्थानीय मुखिया संजीव कुमार गुड्डू के पहुंचने पर चोर को ग्रामीण पुलिस के हवाले कर दिया गया।

जानकारी के अनुसार डुमरा थाना क्षेत्र के बाजितपुर सब्जी मंडी में रुन्नीसैदपुर थाना क्षेत्र के पड़डी गांव के रहने वाला कच्चा सब्जी व्यवसायी राम कुमार अपनी दुकान पर बैठे थे। इसी दौरान दो तीन लड़के आए और चुपके से उसके शर्ट के ऊपर की पॉकेट में रखे 20 हजार रुपये निकाल लिए। लड़कों ने पैसे की जगह गड्डी के आकार की बनी प्लास्टिक को रखने का प्रयास किया तभी रामकुमार ने एक लड़के को पकड़ लिया। हालांकि पॉकेट मारने के तुरंत बाद वह अपने साथी को पैसा थमा दिया, जिसके बाद उसका साथी वहां से फरार हो गया।

पकड़े गए बालक की पहचान उत्तर प्रदेश के सीघापुर गांव नाटीलाल का पुत्र कृष्ण मोहन के रूप में की गई है, जो करीब 13 साल का है। आरोपी बालक ने बताया कि उसके साथी संजीत कुमार उसे पैसे चुराने के लिए बोला और पैसा वही ले लिया। बताया की संजीत अपनी मां से झगड़ा करके घर से निकला और हमको भी बोला कि चल चोरी करके पैसा लाते हैं। फिर हम दोनों बांट लेंगे। बालक ने बताया कि वह अपनी मां के साथ कांटा चौक के समीप रहता है। उसकी मां सुनीता कंगन बेचती है।

स्थानीय लोगों ने बताया कि ऐसा प्रतीत होता है कि यह सभी एक गिरोह चलाते हैं। इसके चार पांच अन्य साथी भी थे। एक महिला भी थी, पकड़ा गया लड़का बार-बार बात को घुमा रहा है। कभी बोल रहा है कि एक दोस्त संजय के साथ आया था, कभी बोल रहा है कि वह अपने पांच छह दोस्त के साथ आया था। 

S

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here